बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें | How to read body language in Hindi

बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें | How to read body language in Hindi

आज हम सीखते हैं बॉडी लैंग्वेज यानी शरीर के हाव भाव की भाषा। किसी भी व्यक्ति के चलनेउठने , बैठने और बात करने के तरीक़े से उस व्यक्ति के बारे में बहुत कुछ जाना जा सकता है।लेकिन आज हम सिर्फ़ लोगों के भावों को समझेंगे । लोगों के भाव देखकर उनके मन की गहराइयों में जाने की कोशिश करेंगे।

 

सवाल उठता है की बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें?

बॉडी लैंग्वेज पहचानने के लिए हमें भावनात्मक संकेत यानी की लोगों के भावों को गौर से देखना और समझना होगा।आम जीवन में भी यदि हम लोगों को क़रीब से देखें तो बहुत कुछ सीखा जा सकता है।

 

 

आइए जानते हैं कुछ तरीक़े जिनसे हम किसी भी व्यक्ति की बॉडी लैंग्वेज को पढ़ सकेंगे।

लोगों के हँसने पर ध्यान दें:

हम यह अच्छी तरह से जानते हैं की इंसान कभी खुशी के कारण रोता है तो कभी अपने गमों को छिपान के लिए भी रोता है।

 

जैसे की कोई व्यक्ति बिना किसी वजह के या बिना मज़ेदार चुटकुले के बहुत अधिक हंसते जा रहा है तो इसका मतलब वो अन्दर से परेशान हैं, खुद को और अपनी समस्याओं को भुलाने के लिए हँस रहा है। या फिर अपने आँखो के आँसुओ को आखों मे ही छुपा लेने के लिए वो हँस रहा हैं।

 

 

अगर कोई व्यक्ति आहिस्ता से हँस रहा है। उसके आँखो मे एक अलग ही चमक है तो इसका मतलब वो अन्दर से ख़ुश है कोई दिखावा नही कर रहा है।

व्यक्ति के रोने से पहचाने :

किसी रोते हुए व्यक्ति के चेहरे और आँखो की तरफ गौर से देखेंगे तो पायेंगे की अगर कोई हँसते हुए आंसुओं को पोछने लगे इसका मतलब है की ये उसके खुशी के आँसू हैं।और उसके आँखो और चेहरे पर एक अलग ही चमक होगी।

 

 

अगर कोई अपने आखों के आँसू पोछ रहा है और चेहरे पर निराशा है तो इसका मतलब है की वह व्यक्ति वास्तव मे बहुत दुखी हैं और अपने आप को अकेला महसूस कर रहा है।

लोगों के चलने के तरीके पर ध्यान दें:

आप लोगों के चलने पर ध्यान देंगे तो पायेंगे की यदि कोई व्यक्ति जल्दी जल्दी चल रहा है तो इसका अर्थ यह है कि वह अपनी जिन्दगी में ज्यादा इंतज़ार करना पसंद नहीं करता है। या फिर वह अकेले ही रहने वाले लोगों में से एक है और उसके जीवन में काफी अकेलापन है। वह अपने किसी पुराने दर्द से लड़ रहा है जिसके कारण वह किसी पर विश्वास नहीं कर पा रहा है ।

 

 

यदि कोई व्यक्ति धीरे-धीरे चल रहा हो तो इसका अर्थ यह है कि वह काफी धैर्यशाली व्यक्तियों में से एक है । और सबके साथ रहना पसंद करता है, लोगों के बीच में ज्यादा खुश रहता है ।वह अपने जिन्दगी में बहुत छोटे-छोटे और काफी सोच कर फैसले लेने वालों में से एक है और जिन्दगी के सभी गमों को भुला कर आगे बढ़ रहा है।

बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें

व्यक्ति के बोलने पर ध्यान दें:

ध्यान दीजिए दोस्तों , अगर कोई व्यक्ति जल्दी जल्दी, तेज़ आवाज़ में बात कर रहा है तो इसका मतलब यह निकलता है कि वह व्यक्ति अपनी जिन्दगी में बहुत ज्यादा चालाक है ।

 

अगर कोई व्यक्ति धीरे-धीरे और काफी धीमी आवाज़ में बात कर रहा है तो इसका अर्थ यह है कि वह अपने जीवन में काफी शान्त रहना पसंद करता है।

 

यदि कोई व्यक्ति अपने हाथों को हिला हिलाकर बात करता है तो इसका अर्थ यह है कि वह काफी बुद्धिमान व्यक्ति है और सच बोलने वालों में से एक है।

 

सावधान रहें दोस्तों उन व्यक्तियों से जो व्यक्ति आंखो से ईशारे करके बात करता है । इसका अर्थ यह है हुआ कि वह काफी समझदार हैं और हद से ज्यादा चालाक भी है । कभी कभी उनकी बातें झूठी भी हो सकती हैं तो उनसे सावधान रहें ।

 

यदि कोई व्यक्ति झूठ बोलने वाला हो तो वह बात करते करते अपनी आखें इधर-उधर करके बात करता है ।या फिर वह आपसे कुछ कहना चाहता है मगर किसी बात से डर रहा है।

 

 

कोई व्यक्ति अपने आंखो को बोलने के दौरान बार बार दाहिने तरफ करता है तो इसका अर्थ यह है कि वह सच बात कहने वाला है और यह यदि विपरीत दिशा में कर रहा है तो इसका अर्थ यह है कि वह झूठ बोलने वाला है ।

हाव भाव देखें:

यह भी पढें: महिलाओं और लड़कियों से जुड़े कुछ रोचक तथ्य | औरतों की विचित्र सच्चाई | FEMALE FACTS

अगर व्यक्ति चिंतित होगा तो उसका चेहरा निराश होगा और होंठ केवल एक पतले रेखा के जैसे बना होगा। और नज़रे एक तरफ झुकी हुई होंगी।

 

और अगर उसकी कुछ गलती है तो वो आंखे उपर नीचे करेगा तथा अपने पैरों को हिलाते रहेगा और चोरी से धीमें से आपको देखेगा।

 

अगर वो व्यक्ति आपसे आंखे मिलाकर बात नही करता तो वह आपसे शर्माता होगा या आपसे झूठ बोलना चाहता होगा।

 

आप जानते ही हैं की व्यक्ति अगर झूठ भी बोलेगा तो आपसे नज़रे चुराकर और चेहरे पर कुछ अजीब भावों के साथ बोलेगा । उनपर गौर करे।

अहंकार दिखाने वाला होता है यह व्यक्ति:

जो भी व्यक्ति अहंकारी होता है वह अपने सर को घुमाकर अपनी नज़रे आपसे ऊँचे स्थान पर रखकर और हांथो को बान्ध कर पीछे की और आपसे जरा रुक रुक कर और तेज़ आवाज मे बात करेगा। वह बात बात पर पैसे की बात करेगा। उसकी हर बात में पैसा ही होगा।

गुस्सैल व्यक्ति की बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें:

जो व्यक्ति आपसे ज्यादा सुनना नही केवल अपनी बात कहना जानता हो।वह व्यक्ति अपने जीवन मे काफी दुख झेल चुका होता है।जो अब केवल दूसरो से सुधार की मांग रखता हैं।

 

यदि किसी व्यक्ति की आँखे लाल हों तो वह इंसान बहुत ज्यादा आक्रमक होता है। उसको उस वक्त कुछ समझाना मतलब आ बैल मुझे मार वाली बात होगी।ऐसे व्यक्ति केवल और केवल सही व्यवस्थित चीजे चाहते हैं। यह अपनी जिन्दगी मे काफी दर्द से गुजर चुके होते हैं,और जब कुछ वही पुरानी घटना के रुप मे सामने आ जाता हैं तो वो दर्द गुस्से के रुप मे आता है।

 

जरा जरा बात पर अगर कोई गुस्सा हो जाए मतलब वह काफी नाज़ुक दिल का इन्सान है।ऐसे लोगों का गुस्सा जितनी जल्दी आता है उतनी ही जल्दी खत्म भी हो जाता हैं ।

चेहरे पर ध्यान दे और खासकर उसके हाथ और आँखो पर:

यदि कोई इन्सान हाथ को बांधकर और आँखो से आँखे मिलाकर बात करे मतलब वह काफी आत्मविश्वास के साथ ही रहने वाला है। आपमे रूचि ले रहा हैं। अगर बात के बाद वह व्यक्ति आपसे हाथ मिलाकर आपको धन्यवाद दे मतलब वह मिलनसार व्यक्ति हैं।

 

 

दोस्तों अंत मे यह कहूँग़ा की यदि आपके दिमाग़ में अब भी यह प्रश्न है की बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें।और आप बॉडी लैंग्वेज को समझना चाहते हैं तो आज से ही लोगों के हँसनेबोलने, उठने बैठने और बात चीत के तौर तरीके को ध्यान से देखना शुरू करें।यही नही अपने घर के लोगो से बात चीत के दौरान आप उनके बॉडी लैंग्वेज को गौर से देखें यह आपको बॉडी लैंग्वेज सीखने में काफी मददगार साबित हो सकता है।

उपयोगी जानकारी शेयर करके आगे जरूर पहुंचाए

3 Comments

  1. […] बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें […]

  2. […] एक positive body language के साथ एक positive attitude ला सकते हो और अपना […]

  3. […] यह भी पढें: बॉडी लैंग्वेज को कैसे पहचानें | How to read body l… […]

Leave a Reply